ई-सिम क्या है? eSIM Kya Hai?

ई-सिम क्या है? eSIM Kya Hai?
eSIM Kya Hai

फ्रेंड्स हम सभी मोबाइल फ़ोन का इस्तेमाल दशकों से करते आ रहे हैं और हम सभी को पता है कि जब तक हमारा मोबाइल फोन्स किसी Telecom Network Service Provider के नेटवर्क से जुड़ा ना हो तब तक हमारा मोबाइल अधूरा रहता है।

इसलिए जब भी हम कोई नई फ़ोन खरीदते है तो हम सब सबसे पहले किसी मोबाइल नेटवर्क प्रोवाइडर के नेटवर्क से जुड़ने के लिए एक SIM (जिसका पूरा नाम Subscriber Identity Module होता है) रजिस्टर कराते है, इसके लिए हमें अपनी पहचान के लिए कुछ जरुरी डॉक्यूमेंट देने होते है और नेटवर्क ऑपरेटर के टर्म्स को फॉलो करना होता है तब हमारे नाम से एक SIM रजिस्टर होता है, फिर उस SIM को अपने मोबाइल फ़ोन में लगाते है।
यह एक छोटा सा फिजिकल कार्ड होता है जिसमे एक चिप लगी होती है इस चिप में Unique Identity तथा जरुरी Information पहले से स्टोर होती है जो मोबाइल में लगाने के बाद Activation तथा Network में Identification में मदद करती है।

SIM Card रजिस्ट्रेशन के दोरान हमें एक 10 Digit का एक Unique Number दिया जाता है जिसे हमलोग Mobile Number के नाम से जानते है। जब हमारा मोबाइल फोन किसी नेटवर्क से जुड़कर पूरी तरह एक्टिवेट हो जाता है तब हमें उसके द्वारा दी जानेवाली सारी फैसिलिटीज (Calling, Messaging, Internet Surfing) को एक्सेस करने की अनुमति मिल जाती है।

ये SIM Card भी आकार के आधार पर तीन तरह के होते है जिनमे से पहला है Standard जिसे Mini SIM कहा जाता है, दूसरा है Micro और तीसरा है Nano जो सबसे छोटा होता है, आज कल के ज्यादातर मोबाइल फ़ोन में Nano SIM को ही सपोर्ट करता है।

परंतु अब टेक्नोलॉजी Nano SIM से भी आगे निकल गया है ओर SIM Card का झंझट ही समाप्त होने जा रहा है क्योंकि अब मार्केट में eSIM का Concept आ गया है, पर क्या आपको पता है कि eSIM क्या है, eSIM कैसे कार्य करता है अगर हाँ तो अच्छी बात है अगर नहीं तो अभी आप जानने वाले है क्योंकि आज हमलोग इस टॉपिक में eSIM के बारे में ही विश्लेषण करने जा रहे है, तो चलिए शुरू करते है....

ई-सिम क्या है? eSIM Kya Hai?

eSIM जिसका का पूरा नाम Embedded Subscriber Identification Module होता है। यह भी एक SIM ही है परन्तु यह आज तक चलते आ रहे ट्रेडिशनल SIM Card के तरह कोई एक फिजिकल Card नहीं होता है बल्कि यह एक तकनीक है जिसे Mobile Phone तथा Smart Watches में यूज़ किया जाता है। इसको Activate करने के लिए Mobile Phone या Smart Watches में दिए गए eSIM की Activation Setting तथा Telecom Network Service Provider के निर्देशानुसार Virtualy Activate किया जाता है, इसलिए इसे Digital SIM और Virtual SIM भी कहा जाता है।

हालाँकि eSIM का कांसेप्ट कुछ वर्षों पहले आ चुका है पर आम यूजर के पहुँच से आज भी दूर है क्योंकि यह फंक्शन आज भी केवल महंगे फ़ोन में ही पाया जाता है।

ई-सिम कैसे काम करता है? eSIM Kaise Kaam Karta Hai?

ई-सिम के कार्य की बात करें तो यह पुराने सिम कार्ड के बराबर ही कार्य करता है, परंतु इसकी वर्किंग कांसेप्ट पुराने सिम कार्ड से अलग है, क्योंकि अभी तक उपयोग किये जा रहे मोबाइल फ़ोन्स में है कि किसी Mobile Network Operator के Network से Connect होने के लिए हमें एक Physical Card को Insert करना पड़ता है, परंतु eSIM के तकनीक में ऐसा नहीं होता है क्योंकि इसके लिए हमें अपने मोबाइल फ़ोन में कोई भी Physical Card लगाने की जरुरत नहीं पड़ती है।

जिस भी मोबाइल फ़ोन में eSIM का Concept दिया गया होता है उसमें पहले से ही मदरबोर्ड पर एक Chip लगी होती है जो SIM Card के तरह ही Functionality प्रदान करता है, केवल इसे Mobile Network Service Provider के अनुमति से एक्टिवेट करना होता है, eSIM सर्विस को Active करने के लिए मोबाइल के Setting में Function दिए गए होते है।
हालाँकि अभी तक आनेवाले ज्यादातर मोबाइल फ़ोन जिसमे eSIM का कांसेप्ट होता है उसमे SIM Card लगाने का भी आप्शन दिया गया होता है, ये यूजर पर निर्भर करता है कि वे eSIM सर्विस का उपयोग करेंगे या SIM Card या फिर दोनों का।

eSIM Supportable Mobile Phone में eSIM के Function को Working में लाने के लिए अर्थात Active करने के लिए हमें Mobile Network Operator से संपर्क करके उसके Terms & Condition के अनुसार कुछ Formalities को पूरा करते हुए Activate कराना पड़ता है तब हम अपने मोबाइल में ई-सिम तकनीक के माध्यम से अपने Network Operator के Network से Connect हो पाते है और हमें सारी सुविधाएँ (Calling, Messaging, Internet Surfing Etc.) मिल पाती है।

वर्तमान में भारत में केवल तीन ही टेलीकॉम कंपनी Aritel, Jio, VI (Vodafone Idea) eSIM की सर्विस दे रही है। इसलिए जिसका भी मोबाइल फ़ोन eSIM को सपोर्ट करता होगा और वे eSIM की सर्विस Activate कराना चाहते होंगे उन्हें वर्त्तमान में इन्ही तीनो में से किसी एक की सर्विस लेनी होगी। हालाँकि आनेवाले समय और भी कंपनियां eSIM की सर्विस दे सकती है।

ई-सिम की विशेषताएं?

  • ई-सिम की विशेषताओं की बात करें तो इसकी निम्नलिखित विशेषताएं हो सकती है, जैसे-
  • ई-सिम की तकनीक का उपयोग करने पर हमें अपने मोबाइल में कोई Physical SIM Card लगाने की जरुरत नहीं पड़ती है जिससे कभी भी Unsupported SIM का Issue आने के चान्सेस नहीं है।
  • मोबाइल खोने या चोरी हो जाने की स्थति में वो मोबाइल जिसके हाथ लगती है वे हमारी eSIM Activation को किसी भी सूरत में बिना हमारे द्वारा नेटवर्क ऑपरेटर को Request किये Deactivate नहीं करवा सकता है, जिस कारण मोबाइल फ़ोन ढूंढने में आसानी हो सकती है।
  • ई-सिम सर्विस में किसी एक नेटवर्क ऑपरेटर से दूसरे नेटवर्क ऑपरेटर में जाने के लिए PORT करना भी आसान है।
  • अगर किसी के द्वारा पहले से eSIM सर्विस प्रोवाइडर टेलीकॉम कंपनी का ही Physical SIM का उपयोग मोबाइल में किया जा रहा हो और उसे eSIM Activate कराना हो तो वे घर बैठे Activation Process को Follow करते हुए घंटों में eSIM सर्विस एक्टिवेट करा सकता है।

अपने मोबाइल में ई-सिम सर्विस को एक्टिवेट कैसे करें?

ई-सिम सर्विस को हम हर एक मोबाइल फ़ोन में एक्टिवेट नहीं कर सकते क्योंकि यह उसी मोबाइल फ़ोन में संभव है जिसमे ई-सिम Functionality मौजूद हो। ई-सिम सर्विस भी हम केवल उसी नेटवर्क ऑपरेटर से ले सकते है जो ई-सिम की सेवा प्रदान कर रही हो।

वैसे हम सभी जान रहे है कि वर्तमान में भारत में केवल Airtel, Jio और VI ही ई-सिम की सर्विस प्रदान कर रही है। इसलिए इन तीनो से नई eSIM Connection कैसे लें और पहले से यूज़ किये जा रहे Physical SIM को eSIM में Convert कैसे करें के बारे में नीचे बताने जा रहे है....

सबसे पहले हमलोग जानते है कि Airtel, Jio या VI से नई eSIM Connection कैसे लें....

यदि हमें Airtel, Jio या VI में से किसी भी ऑपरेटर से अगर नई eSIM Connection लेना हो तो हमें इसके लिए उस ऑपरेटर के Store या Outlet में जाना होगा और नई कनेक्शन के बारे में बात करना होगा। जहाँ हमसे कुछ Formalties पूरी करवाई जाएगी उसके बाद हमारे मोबाइल में eSIM Activate कर दिया जायेगा और हमें एक Unique Mobile Number Allot कर दिया जायेगा।

यदि हम Airtel, Jio या VI में से किसी भी ऑपरेटर का पहले से Physical SIM यूज़ कर रहे है और उसे eSIM में Convert करना हो तो इसके लिए तीनो ऑपरेटर के लिए अलग-अलग तरह के Steps को फॉलो करना होता है।

👉Airtel User के लिए:-

  • अपने डिवाइस पर फिजिकल सिम कार्ड को eSIM में बदलने के लिए सबसे पहले आपको एक मैसेज में "eSIM <space> registered email id" टाइप कर 121 पर भेजना होगा....
  • यदि आपकी ईमेल आईडी वैलिड होगी तो एयरटेल इस प्रोसेस की पुष्टि करने के लिए आपको 121 से एक SMS भेजेगा....
  • eSIM रिक्वेस्ट को कंफर्म करने के लिए 60 सेकंड के भीतर आपको रिप्लाई में 1 लिखकर भेजना होगा....
  • जब आपकी eSIM रिक्वेस्ट कन्फर्म हो जाएगी तब Airtel के तरफ से आखिरी सहमति लेने और QR कोड के बारे में जानकारी देने के लिए आपको एक कॉल आएगा जिसमे आपको उसके द्वारा पूछी जानेवाली जानकारी देनी होगी....
  • उसके बाद आपके द्वारा दिए गए email id पर आपको एक QR Code भेजा जायेगा, जिसको अपने मोबाइल Network Setting में जाकर Scan करना होगा, Scan होते ही आपके सामने कुछ ही सेकंड में SIM Download होकर Add हो जायेगा, इस दोरान आपका फ़ोन इन्टरनेट से कनेक्ट होना चाहिय। उसके बाद 2 घंटे के अन्दर आपका eSIM Activate हो जायेगा।

👉VI User के लिए:-

  • VI में अपने डिवाइस पर फिजिकल सिम कार्ड को eSIM में बदलने के लिए सबसे पहले आपको एक मैसेज में "eSIM <space> registered email id" टाइप कर 199 पर भेजना होगा....
  • यदि आपकी ईमेल आईडी वैलिड होगी तो VI इस प्रोसेस की पुष्टि करने के लिए आपको 199 से एक SMS भेजेगा....
  • eSIM रिक्वेस्ट को कंफर्म करने के लिए 60 सेकंड के भीतर आपको रिप्लाई में "ESIMY" लिखकर भेजना होगा....
  • जब आपकी eSIM रिक्वेस्ट कन्फर्म हो जाएगी तब VI के तरफ से आखिरी सहमति लेने और QR कोड के बारे में जानकारी देने के लिए आपको एक कॉल आएगा जिसमे आपको उसके द्वारा पूछी जानेवाली जानकारी देनी होगी....
  • उसके बाद आपके द्वारा दिए गए email id पर आपको एक QR Code भेजा जायेगा, जिसको अपने मोबाइल Network Setting में जाकर Scan करना होगा, Scan होते ही आपके सामने कुछ ही सेकंड में SIM Download होकर Add हो जायेगा, इस दोरान आपका फ़ोन इन्टरनेट से कनेक्ट होना चाहिय। उसके बाद 2 घंटे के अन्दर आपका eSIM Activate हो जायेगा।
नोट- VI (Vodafone+Idea) में फिलहाल eSIM की सर्विस केवल Postpaid Plan में ही उपलब्ध है।

👉Jio User के लिए:-

  • Jio में अपने डिवाइस पर फिजिकल सिम कार्ड को eSIM में बदलने के लिए आपको एक मैसेज में GETESIM <32 Digit EID>Space<15 Digit IMEI> नंबर को टाइप करके 199 पर भेजना होगा....
  • जब आप 32 Digit EID नंबर और 15Digit IMEI को 199 पर भेज देंगे तब आपको Jio के तरफ से एक मेसेज में 19 Digit का eSIM नंबर और Profile Configuration Detail भेजा जायेगा....
  • फिर आप <SIMCHG> Space<19 Digit eSIM Number> लिखकर 199 भेजें....
  • उसके बाद 2 घंटे के अन्दर आपको एक मेसेज आएगा जिसमे Confirmation के लिए आपको 1 लिखकर 183 पर भेजने को कहा जायेगा....
  • उसके बाद Jio के तरफ से Confirmation के लिए एक कॉल आएगा जिसमे आपसे 19 Digit eSIM नंबर पूछा जायेगा, यदि आप सही-सही eSIM Number बता देते है....
  • तब आपको Activation Confirmation मेसेज के साथ 32 Digit का एक Activation Code दिया जायेगा....
  • उसके बाद अपने मोबाइल के Network Setting में जाकर इस 32 Digit के कोड को डालकर अपने Jio eSIM को Activate कर लें, इस दोरान आपका फ़ोन इन्टरनेट से कनेक्ट होना चाहिय।
नोट- eSIM Activation के लिए हमेशा अपना ही email id डालें।

Conclusion:-
फ्रेंड्स हमें उम्मीद है कि इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आपको eSIM के बारे में बहुत कुछ जानने को मिला होगा, फिर भी यदि किसी प्रकार की कोई कंफ्यूज़न रह गयी हो तो कमेंट के माध्यम से बेझिझक पूछ सकते है।
इसी तरह की और भी टेक्नोलॉजिकल आर्टिकल पढ़ने के लिए Comtech In Hindi से जुड़े रहें। धन्यवाद!