Type Here to Get Search Results !

स्लो लैपटॉप को फ़ास्ट कैसे करें? Slow laptop ko fast kaise kare?

स्लो लैपटॉप को फ़ास्ट कैसे करें? जाने बिलकुल आसान शब्दों में....

फ्रेंड्स हम में से जो भी लोग लैपटॉप या डेस्कटॉप कंप्यूटर का इस्तेमाल करते है उन्हें एक ना एक दिन अपने PC के स्लो (Slow) होने जैसी समस्याओं का सामना करना पड़ता है और अपने कंप्यूटर या लैपटॉप के स्लो हो जाने पर कैसा महसूस होता है ये तो सायद जो लोग इस तरह के समस्यओं से अवगत होंगे उन्हें अच्छी तरह पता होगा.

जब हमलोग नया कंप्यूटर या लैपटॉप लेकर आते है तब से कुछ सालों तक तो हमारा कंप्यूटर बहुत ही अच्छा चलता है पर जैसे-जैसे समय बीतते जाता है वैसे-वैसे कुछ स्लो महसूस होने लगता है जो एक आम बात है परन्तु कुछ ऐसे फैक्टर भी है जो हमारे कंप्यूटर या लैपटॉप को बेवजह स्लो करके रखते है, जिसके बारे में अगर यदि अच्छी तरह पता हो और कुछ सतर्कता बरतें तो सायद इससे निजात पाया जा सकता है.

ऐसे में क्या आप जानना चाहते है की आपका कंप्यूटर या लैपटॉप स्लो क्यों होता है और अगर यदि आपका कंप्यूटर या लैपटॉप स्लो चले तो क्या करें, लैपटॉप को फ़ास्ट कैसे करें (Laptop slow chale to kya kare, Laptop ko fast kaise kare).
अगर ऐसे ही सवालों का जबाब ढूंढते हुए यहाँ तक आये है तो आप सही जगह है क्योंकि आज हमलोग इस आर्टिकल में कंप्यूटर या लैपटॉप के स्लो होने जैसी समस्यओं के बारे में चर्चा करने जा रहे है, इसलिए आपसे आग्रह है की पुरे आर्टिकल को ध्यानपूर्वक पढ़ें....

लैपटॉप या डेस्कटॉप के स्लो हो जाने पर उसे फ़ास्ट कैसे करें, इसके बारे में जानने से पहले हमलोग जान लेते है की लैपटॉप, डेस्कटॉप के स्लो होने के मुख्य कारण क्या हो सकते है.....


लैपटॉप या डेस्कटॉप कंप्यूटर के स्लो होने के कारण?
Slow laptop ko fast kaise kare

लैपटॉप या डेस्कटॉप कंप्यूटर के स्लो होने के कारणों को अगर यदि टेक्निकली देखें तो इसके दो तरह के कारण हो सकते है....
  • हार्डवेयर में दोष आने के कारण....
  • सॉफ्टवेयर में दोष आने के कारण....
नोट- ज्यादातर केस में सॉफ्टवेयर में दोष आने के कारण ही कंप्यूटर या लैपटॉप में स्लो होने जैसी समस्या उत्पन्न होती है.

हार्डवेयर में आनेवाले निम्नलिखित दोष है जिसके कारण कंप्यूटर या लैपटॉप स्लो हो जाता है:

  • हार्ड डिस्क ड्राइव के पुराने हो जाने पर....
  • रैम की स्पेस कम रहने पर....
  • पॉवर सप्लाई सिस्टम ठीक नहीं रहने पर....
  • कीपैड में शॉर्टिंग रहने पर....
  • मदरबोर्ड पर किसी कॉम्पोनेन्ट में फाल्ट रहने पर....
नोट- अगर हार्डवेयर की ओर से कंप्यूटर या लैपटॉप के स्लो होने के पीछे का कारण देखें तो ज्यादातर Hard Drive और RAM ही दोषी होता है जिसके कारण कंप्यूटर या लैपटॉप स्लो होता है.

सॉफ्टवेयर में आनेवाले निम्नलिखित दोष है जिसके कारण कंप्यूटर या लैपटॉप स्लो हो जाता है:

  • कंप्यूटर के अन्दर वायरस आ जाने के कारण....
  • ऑपरेटिंग सिस्टम का अधुरा अपडेट होने के कारण....
  • ऑपरेटिंग सिस्टम Corrupt हो जाने पर....
  • बूट ड्राइव (C:) फुल हो जाने पर....
  • डाटा फ्रैग्मेण्टेड हो जाने पर....
  • कंप्यूटर की क्षमता से हैवी सॉफ्टवेयर इनस्टॉल करने पर....
  • किसी सॉफ्टवेयर का अधुरा इनस्टॉल होने पर....
  • किसी वायरस संक्रमित सॉफ्टवेयर का इनस्टॉल करने पर....
  • दो तरह के एंटीवायरस सॉफ्टवेयर इस्तेमाल करने पर....
  • कंप्यूटर के क्षमता से ज्यादा मल्टीटास्किंग करने पर....

अगर लैपटॉप या डेस्कटॉप स्लो हो जाये तब उसे फ़ास्ट कैसे करें?

अगर आपका लैपटॉप या डेस्कटॉप कंप्यूटर स्लो हो जाये तो सबसे पहले यह जानने का प्रयास करें की समस्या उत्पन्न कैसे हुई है, एक क्रम से समय के साथ धीरे-धीरे स्लो होता गया है या अचानक किसी सॉफ्टवेयर, ड्राईवर इत्यादि के इनस्टॉल करने के कारण अथवा ऑपरेटिंग सिस्टम अपडेट करने के कारण स्लो होने की समस्या उत्पन्न हुई है या किसी बाहरी डाटा स्टोरेज डिवाइस (पेन ड्राइव) अथवा मोबाइल का स्टोरेज एक्सेस करने से समस्या उत्पन्न हुई है.

अगर एक क्रम से समय के साथ धीरे-धीरे स्लो होता गया है तो ज्यादातर चांस है की हार्ड ड्राइव स्लो हो गया होगा या बूट ड्राइव (C: Drive) फुल हो गया होगा या ऑपरेटिंग सिस्टम (विंडोज) में बहुत सारे फालतू की फइलें बन जाने के कारण, डाटा फ्रैग्मेण्टेड हो जाने के कारण या सॉफ्टवेयर Corrupt हो जाने के कारण आपका PC स्लो हो गया होगा.

इसके लिए सबसे पहले ऑपरेटिंग सिस्टम वाली ड्राइव यानि बूट ड्राइव की स्पेस को देखें की उसमे कितनी स्पेस बची है. अगर ये ड्राइव फुल हो चुकी है या इसमें स्पेस बहुत ही कम है तो इसके स्पेस को बढ़ाएं...
इसके लिए आप खुद ही....
  • Unnecessary File को बूट ड्राइव से दूसरी ड्राइव में ले जाकर रख दें....
  • टेम्प फाइल को डिलीट कर दें....
  • रीसायकल बिन को खाली कर दें....
  • अपने कंप्यूटर में मोजूद Defragmenter की मदद से डाटा Defragment कर दें...
अगर यदि अचानक किसी सॉफ्टवेयर या ड्राईवर के इनस्टॉल करने के बाद आपका PC स्लो हो गया हो तो सबसे पहले उस सॉफ्टवेयर या ड्राईवर इत्यादि को अपने सिस्टम से हटाकर पुराने मोड में लेते आयें और स्थिति को जांचें.

अगर ऑपरेटिंग सिस्टम अपडेट करने के कारण आपका PC स्लो हो गया हो तो, हो सकता है की आपका PC पूरी तरह अपडेट नहीं हुई हो इसके लिए आप पुनः पूरी तरह अपने PC को अपडेट कर लें और विंडोज अपडेट में जाकर देखें की आपका PC Updated है या नहीं.

अगर यदि बाहरी किसी डाटा स्टोरेज डिवाइस या मोबाइल के लगाने पर समस्या उत्पन्न हुई हो तो हो सकता है की आपके PC में उस स्टोरेज डिवाइस या मोबाइल के माध्यम से वायरस आ गया हो इसके लिए आप किसी एंटी वायरस सॉफ्टवेयर से अपने कंप्यूटर को स्कैन करें और स्थिति को जांचें.

यदि ऊपर बताई गयी सभी स्टेप्स को फॉलो करने के बाद भी समस्या का समाधान नहीं हो तब आप बिना किसी साधन और जानकारी के ट्रबलशूटिंग और समस्या का समाधान नहीं कर सकते, इसके लिए आपको किसी अच्छे तकनीशियन के पास जाना होगा.

लैपटॉप या डेस्कटॉप को फ़ास्ट कैसे बनाये रखें?

लैपटॉप या डेस्कटॉप कंप्यूटर को फ़ास्ट बनाये रखने के लिए यहाँ हमने कुछ टिप्स दिया है जिसको फोलो करने पर बहुत हद तक लम्बे समय के लिए अपने सिस्टम को फ़ास्ट बनाये रख सकते है, इसके लिए....
  • हमेशा एक अच्छे एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल करें....
  • अपने सिस्टम की क्षमता से ज्यादा हैवी सॉफ्टवेयर इनस्टॉल नहीं करें....
  • बेवजह इन्टरनेट से किसी फालतू सॉफ्टवेयर इत्यादि को डाउनलोड करके इनस्टॉल करने से बचें....
  • अपने सिस्टम हमेशा जेन्युइन सॉफ्टवेयर और डिवाइस ड्राईवर को ही इनस्टॉल करें....
  • अपने सिस्टम की डाटा को Fragment होने से बचने के लिए, सिस्टम में मोजूद Disk Defragmenter में Weakly Defragmentation Schedule सेट कर दें....
  • बीच-बीच में Temp File तथा Recycle Bin खाली करते रहें....
  • जो भी एंटीवायरस सॉफ्टवेयर का इस्तेमाल कर रहे हो उसमे USB Scanning हमेशा On रखे ताकि बाहर से USB में किसी डिवाइस को लगाते ही उसकी वायरस इत्यादि को स्कैन कर ले और आपका सिस्टम इन्फेक्टेड होने से बचा रहे....
  • अपने कंप्यूटर या लैपटॉप की कुलिंग सिस्टम पर हमेशा ध्यान रखें, इसके लिए आप अपने हाथ से Heat Sense करें तथा Cooling Fan की मूवमेंट का अंदाजा लगायें, अगर कुलिंग सिस्टम में कोई समस्या महसूस हो तो Servicing कराएँ....
  • अपने कंप्यूटर या लैपटॉप को धुल कण से बचाएं रखें....

Conclusion (निष्कर्ष):
फ्रेंड्स हमें उम्मीद है की इस आर्टिकल के माध्यम से पता चल गया होगा की कंप्यूटर या लैपटॉप के स्लो होने के क्या-क्या कारण होते है और यदि आपका कंप्यूटर या लैपटॉप स्लो हो जाता है तो आप स्वयं ही कैसे उसे ट्रबलशूटिंग कर सकते है. इस आर्टिकल में हमने कंप्यूटर या लैपटॉप के स्लो होने के लगभग सभी कारणों को बताया है पर ट्रबलशूटिंग केवल उतनी ही बताया ही जितनी आप एक यूजर होते हुए कर सकते है.
हमें उम्मीद है की यह आर्टिकल आपको पसंद आई होगी फिर भी किसी प्रकार का कोई प्रश्न हो तो कमेंट के माध्यम से पूछ सकते है. Comtechinhindi.IN से जुड़े रहने के लिए....धन्यवाद !

Post a Comment

0 Comments
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad